संत रविदास जी के संदेशों का अनुसरण करते हुए सामाजिक एकता को मजबूत करें- मनीराम कुशवाहा

0
159

झांसी। जिला कांग्रेस कमेटी के तत्वाधान में बाहर दतिया गेट, झांसी में वरिष्ठ कांग्रेस नेत्री श्रीमती मुन्नी देवी अहिरवार के संयोजन में संत शिरोमणि रविदास महाराज की जयंती उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी पिछड़ा वर्ग के उपाध्यक्ष मनीराम कुशवाहा के मुख्य आतिथ्य एवं जिला उपाध्यक्ष नीता अग्रवाल की अध्यक्षता में मनाई गई। इस अवसर पर वक्ताओं ने संत शिरोमणि के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर उनके जीवन चरित्र पर प्रकाश डाला।

इस अवसर पर प्रदेश उपाध्यक्ष मनीराम कुशवाहा ने कहा कि जब देश में राजा महाराजाओं एवं छत्रपों का अधिपत्य था और जातिवाद, भेदभाव , छुआछूत का बोलबाला था। तब 15वीं शताब्दी में संत शिरोमणि रविदास जी का प्रादुर्भाव हुआ और उन्होंने समाज सुधार की दिशा में कार्य करते हुए अंधविश्वास और पाखंड के खिलाफ अलख जगाया। उन्होंने मन चंगा तो कठौती में गंगा का उद्घोष करते हुए समझाया कि व्यक्ति को शरीर से नहीं बल्कि आत्मा से पवित्र होने की जरूरत है। उन्होंने कहा था कि कोई भी व्यक्ति जाति और धर्म से महान नहीं होता। वह अपने कर्मों से पहचाना जाता है। उन्होंने लोगों को भाईचारा और सहिष्णुता का ज्ञान दिया। वह अपने समय के महान संत थे। उन्होंने अस्पृश्यितों को समाज में बराबर का अधिकार दिलाने के लिए कार्य किया। उनकी ईश्वर के प्रति सच्ची भावना से प्रेरित होकर हर जाति व धर्म के लोगों पर गहरा प्रभाव पड़ा और वह उनके अनुयाई बने। वर्तमान परिवेश हमें उनके आदर्शों और संदेशों का अनुसरण करते हुए भाईचारा और सामाजिक एकता को मजबूत बनाने के लिए कार्य करना चाहिए।

इस अवसर पर अफजाल हुसैन, अमीरचंद आर्य, ऋषभ साहू, पार्वती देवा कुशवाहा, हजरत खान, प्रेमलता वर्मा, गीता वर्मा, सौरभ पाठक, शशि वर्मा, मुकेश वर्मा राकेश श्रीवास, राहुल वर्मा, मीना वर्मा,ऋषि कुशवाहा, कुलदीप वर्मा आदि ने विचार व्यक्त किए।

गोष्ठी का संचालन उमेश चंद्र सविता ने तथा आभार युवराज सिंह ने व्यक्त किया।

LEAVE A REPLY