शत-प्रतिशत स्वास्थ्य कर्मियों को लगेगा कोरोना टीका – डीएम

0
113

प्रथम चरण के तीसरे दौर में गुरुवार को 12 केंद्रों में होगा टीकाकरण

झांसी । स्वास्थ्य संचार सुदृढ़ीकरण हेतु जिला स्वास्थ्य समिति झाँसी द्वारा सेंटर फॉर एडवोकेसी एण्ड रिसर्च (सीफॉर) के सहयोग से कोविड अनुकूल व्यवहार और टीकाकरण पर मीडिया कार्यशाला आयोजित की गयी। कार्यशाला को संबोधित करते हुये जिलाधिकारी आंद्रा वामसी ने कहा कि प्रथम चरण के पहले दौर में 75 और दूसरे दौर में 58 फीसदी स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण हुआ है। उन्होने 28 जनवरी को टीकाकरण सौ प्रतिशत तक पहुंचाने मे मीडिया से सहयोग की अपेक्षा की। साथ स्वास्थ्य अधिकारियों को निर्देश दिया कि 28 जनवरी को होने वाले तीसरे दौर में शत-प्रतिशत टीकाकरण कराये ताकि वैक्सीन जब आमजन तक पहुंचे तो किसी को वैक्सीन को लेकर किसी भी तरह की शंका न हो।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में आए जिलाधिकारी ने कहा कि अभी प्रथम चरण में कोरोना वैक्सीन हेल्थ केयर वर्कर्स, दूसरे चरण में फ्रंट लाइन वर्कर्स और तीसरे चरण में 50 साल से अधिक आयु के लोगों का टीकाकरण होगा। डीएम ने कहा कि कोरोना वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित है। अभी तक जितने भी स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को वैक्सीन लगी है, किसी को कोई दिक्कत नहीं हुई है।

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. रविशंकर ने कोरोना टीकाकरण के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कोविन एप में लाभार्थी का रजिस्ट्रेशन होता है। टीकाकरण से एक दिन पूर्व मोबाइल पर मैसेज आता है। टीकाकरण के लिए लाभार्थी को एक पहचान पत्र के साथ स्वास्थ्य केंद्र पहुंचना होता है।

सीएमओ ने साझा किया अपना अनुभव

वर्कशॉप में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. जीके निगम कोमार्बिड (किसी अन्य बीमारी से ग्रसित रहने वाला) के बावजूद 22 जनवरी को उन्होंने कोरोना वैक्सीन ली। अपने अनुभव साझा करते हुए सीएमओ ने कहा कि उन्हें एक बार भी इस बात का ख्याल नहीं आया कि वैक्सीन लेने से कोई दिक्कत हो सकती है। वैक्सीन लेने के बाद से लेकर अब तक वह वैसा ही महसूस कर रहे हैं, जैसा पहले महसूस करते रहे हैं।

मीडिया के सवाल अधिकारियों के जवाब

कार्यशाला में मीडिया कर्मियों ने कई सवाल भी किए। जिनके अधिकारियों द्वारा जवाब दिये गए जैसे मीडिया कर्मियों ने पंजीकरण की प्रक्रिया के बारे में पूछा। इस संबंध में जिला स्वास्थ्य शिक्षाधिकारी डॉ. विजयश्री शुक्ला ने कहा कि कोविन एप में प्रथम चरण के लाभार्थियों का टीकाकरण किया जा रहा है, आम जनता के टीकाकरण की प्रक्रिया की अभी शासन स्तर से गाइडलाइन जारी नहीं हुई है। मीडिया कर्मियों ने गर्मी के मौसम में कोरोना वैक्सीन को सुरक्षित रखने के बारे में सवाल किया। इस पर डीएम ने बताया कि वैक्सीन को सुरक्षित रखने में जनपद के आईएलआर सक्षम हैं। एक मीडिया कर्मी ने प्रथम चरण के दो दौर निपटने के बावजूद टीकाकरण का प्रतिशत कम होने का सवाल किया तो फिर से डीएम ने इसका जवाब देते हुए कहा कि यह बात सही है कि प्रतिशत कम है, लेकिन तीसरे दौर (28 जनवरी) को शत-प्रतिशत टीकाकरण कराने की पूरी कोशिश की जाएगी। मीडिया कर्मी ने शहरी क्षेत्र के मुकाबले ग्रामीण क्षेत्र में ज्यादा संख्या में टीकाकरण होने का सवाल किया तो सीएमओ डॉ. निगम ने कहा कि विभाग इसकी निगरानी कर रहा है, अगले दौर में प्रतिशत में इजाफा होगा।

12 केंद्रों में गुरुवार को होगा तीसरे दौर का टीकाकरण

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी ने बताया कि कल 28 जनवरी को जनपद में राजकीय पैरा मेडिकल ट्रेनिंग कॉलेज में 7, महारानी लक्ष्मीबाई मेडिकल कॉलेज में 4, जिला क्षय रोग नियंत्रण इकाई में एक, जिला चिकित्सालय झांसी में 2, सीएचसी बबीना में 3, बरुआसागर, बंगरा, बामौर, चिरगांव, गुरसहांय, मऊरानीपुर और मोंठ में 2-2 सत्रों सहित कुल 31 सत्र में टीकाकरण किया जाएगा। इसी प्रकार 29 जनवरी को 15 स्थानों पर 25 सत्र में टीकाकरण होगा। जबकि 4 फरवरी को कुल तीन स्थानों पर नौ सत्रों में टीकाकरण कराया जाएगा।

LEAVE A REPLY