हवाई अड्डे व शटल बस रीचार्जिंग प्वाइंट की भूमि का डीएम ने किया निरीक्षण

0
438

झांसी। हवाई अड्डा व इलैक्ट्रोनिक शटल बस रीचार्जिंग प्वाइंट के लिये भूमि का बुधवार को जिलाधिकारी शिव सहाय अवस्थी ने निरीक्षण किया तथा मौके पर भूमि की उपलब्धता को देखा। इसके साथ ही उन्होंने संबधित को प्रस्ताव बनाकर शासन को भेजने के निर्देश दिये।
जिलाधिकारी शिव सहाय अवस्थी ने बुधवार को दल-बल के साथ कानपुर बाईपास चैराहा पहंुचे। जहां शासन द्वारा शटल बस चार्जिंग प्वाइंट बनाया जाना है, जिसके लिये करीब 3 एकड़ भूमि की आवश्यकता है। मौके पर भूमि की उपलब्धता को देखा तथा नापतौल कराकर कितनी भूमि की आवश्यकता है, उसकी जानकारी ली। उन्होंने निर्देश देते हुये कहा कि तत्काल प्रस्ताव बनाकर शासन को प्रेषित किया जाये। इसके बाद उन्होंने जनपद में हवाई पट्टी के लिये मौजा सफा चमरौआ में 200 हेक्टेयर (494 एकड़) भूमि हवाई अडडे के निर्माण के लिए उपर्युक्त पाई गई जिसका आज निरीक्षण किया। उन्होंने बताया कि आर्मी की जो हवाई पट्टी है वहां पर्याप्त जगह नहीं है। साथ ही यदि उसे विकसित किया जाना है तो हाई-वे, विद्युत लाइन, नहर अथवा नालों की शिफ्टिंग के साथ ही पक्के निर्माण को हटाना होगा। इसके विकल्प के रुप में आज मौजा सफा चमरौआ में भूमि देखी गयी। इससे पूर्व यहां की भूमि को लेकर काफी काम प्रशासन द्वारा कर लिया गया है। 20 फरवरी 2020 को शासन स्तर पर हवाई अड्डा को लेकर एक प्रमुख बैठक होने जा रही है। जिसमें झांसी में एक स्वतन्त्र सिविल हवाई पट्टी के निर्माण पर निर्णय लिया जायेगा। निरीक्षण के दौरान नगर आयुक्त मनोज कुमार, एडीएम बी. प्रसाद, एसडीएम संजीव कुमार मौर्य, तहसीलदार अजय कुमार, प्रोजेक्ट मैनेजर केके कटियार, अधिशाषी अभियंता लोक निर्माण सुनील कुमार सहित अन्य अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY