संचारी रोगों से निपटने के लिए विशेष अभियान 10 से

0
910

झांसी। संचारी व वेक्टर जनित रोगों पर नियंत्रण करने के लिए 10 से 28 फरवरी तक पूरे मण्डल में संचारी रोग नियंत्रण अभियान चलाया जायेगा। इसको लेकर महानिदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग का जिलाधिकारी, मुख्य चिकित्साधिकारी एवं मुख्य चिकित्सा अधीक्षक/अधिक्षिका को पत्र भी प्राप्त हुआ है।
जिला मलेरिया अधिकारी आरके गुप्ता ने बताया कि इस अभियान को चलाने का मुख्य उद्देश्य गैर संचारी व वेक्टर जनित रोगों को नियंत्रण करना और जन समुदाय को जागरूक करना है। इसके लिए जिला स्तर पर दो मास्टर ट्रेनर के रूप में डीसीपीएम प्रशांत वर्मा व जिला स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी विजय श्री को राज्य स्तर पर प्रशिक्षित किया गया। ताकि वह अपने जनपद में जाकर ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों को एक दिवसीय प्रशिक्षण देकर अभियान को सफल बना सकें। उन्होंने बताया कि अभियान के लिए ब्लॉक स्तर पर 40 ट्रेनर बनाये गए है, जिनको जिला स्तरीय मास्टर ट्रेनर द्वारा एक दिवसीय प्रशिक्षण दिया गया है। हर ब्लॉक से 5 लोगों को मास्टर ट्रेनर बनाया गया है। इसमें राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम से एक चिकित्सक, स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी, ब्लॉक कार्यक्रम प्रबन्धक, ब्लॉक समुदाय प्रक्रिया प्रबन्धक एवं स्वास्थ्य सुपरवाइज़र आदि है।
अभियान के दौरान होने वाली गतिविधियां
अभियान के दौरान वेक्टर नियंत्रण, साफ-सफाई, कचरा निस्तारण, जल भराव रोकने, शुद्ध पेयजल आपूर्ति एवं विद्यालयों में संवेदीकरण तथा जनसंवाद द्वारा जागरूकता उत्पन्न करने आदि गतिविधियों पर ज़ोर दिया जाएगा। वहीं ग्राम स्तर पर लोगों में संचारी व वेक्टर जनित रोगों से बचाव के लिए आशा द्वारा क्लोरीनेशन डेमो एवं हाथ धोने के कौशल को बताया जाएगा। ग्राम प्रधान द्वारा ग्राम स्तर पर प्रभात फेरी, नालियों की साफ-सफाई एवं ग्राम स्वास्थ्य स्वच्छता एवं पोषण समिति की बैठक में संचारी व वेक्टर जनित रोगों पर प्रचार-प्रसार करके जागरूक किया जाएगा। स्कूलों बच्चों की रैली निकाली जाएगी। शिक्षक प्रतिदिन 1 घंटे स्कूली बच्चों को वेक्टर व संक्रामक बीमारियों पर जागरूक करेंगे।
10 विभागों की हुई जिम्मेदारी तय 
अभियान को सफल बनाने के लिए 10 विभागों की सामूहिक भागीदारी तय की गई है। इसमें चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग, नगर विकास विभाग, पंचायती राज विभाग, ग्राम्य विकास विभाग, पशु पालन विभाग, बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग, शिक्षा विभाग, कृषि एवं सिचाई विभाग, दिव्यांग जन सशक्तिकरण विभाग, सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग की जिम्मेदारी तय की गई है। साथ ही स्वास्थ्य विभाग को नोडल बनाकर सभी विभागों को उनकी ज़िम्मेदारी भी सौंप दी गई है।

LEAVE A REPLY