जिला अस्पताल में नहीं थम रहा वबाल, ठेकेदार ने बड़े बाबू को दी धमकी 

0
508

झांसी। मरीजों के लिए भोजन के टेण्डर मामला इस समय जिला अस्पताल की गले की फांस बना हुआ है। टेण्डर भले ही बीते रोज खुल गया हो लेकिन वबाल अभी तक थमने का नाम नहीं ले रहा है। बुधवार को दोपहर बाद टेण्डर दिलाने का दबाव बनाते हुए 12-13 साल से जमे भोजन के ठेकेदार ने कनिष्ठ सहायक के चैम्बर में घुसकर उसे व उसके परिवार को जान से मारने की धमकी दे डाली। इससे बाबू के हाथ पांव फूल गए। और उसकी हालत बिगड़ गई। घटना की शिकायत पीड़ित बाबू ने सीएमएस व कोतवाल से की है।
जिला अस्पताल के कनिष्ठ सहायक लिपिक दिनेश रायकवार ने कोतवाली पुलिस को दिए प्रार्थना पत्र में बताया कि रोज की तरह दोपहर करीब 3 बजे वह अपने कार्यालय में कार्य कर रहा था। तभी अस्पताल का हाल ही में डेढ़ ठेके लेने वाला ठेकेदार उसके चैम्बर में आ धमका। उसने उसे गाली गलौज करते हुए भुगतान की बात को लेकर किसी से बात कराने का दबाव बनाने लगा। जब दिनेश ने उक्त अपरचित व्यक्ति से बात करने से मना किया तो उक्त ठेकेदार ने टेबल पर रखी सरकारी दस्तावेज फेंक दिए। और उसे व उसके परिवार को जान से मारने की धमकी देने लगा। इस पर दिनेश बुरी तरह से घबरा गया। और उसकी हालत बिगड़ गई। उसका ब्लॅड प्रेशर बढ़ जाने के चलते दिनेश की हालत देख लोगों ने शोर मचा दिया। इस पर उक्त ठेकेदार वहां से भाग निकला। पीड़ित बाबू ने इसकी शिकायत सीएमएस डा.बीके गुप्ता से भी की। गौरतलब है कि इसी ठेकेदार के लिए अस्पताल प्रशासन ने करीब एक वर्ष पूर्व इस ठेकेदार की फर्म को ब्लैक लिस्ट्ड करने के लिए जिलाधिकारी को पत्र लिखा था। लेकिन अधिकारियों ने अब तक इसे संज्ञान नहीं लिया।

LEAVE A REPLY